ऋषि सुनक को भारी पड़ा भारतीय मूल के होने का भारी प्रचार. 5 सितंबर.

भारतीय मूल के ब्रिटेन की संसद में सांसद और पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक की प्रधानमंत्री पद की दौड़ में हार से भारतीय निराश हैं. वह लेबर पार्टी के श्रेष्टी


वाहन चालकों को लेकर अनदेखी गंभीर अपराध 01 सितंबर.

वाहन चालकों की सड़क दुर्घनाओं का करण बनने वाली गलतियों का भारी नुकसान निरअपराध लोगों को उठाना पड़ता है. इन लापरवाह वाहन चालकों को लेकर कई नियम हैं. उन्हें


पाकिस्तान की मदद पर सवाल तो उठेंगे जनाब. 01 सितंबर.

पाकिस्तान को मदद देश के खिलाफ है जनाब. क्योंकि पाकिस्तान आतंकवादियों की मदद कर खुद सौ सौ जख्म खा रहा है और हिंदुस्तान को हजारों हजार जख्म दे रहा है. पाकि


पेगासस में फिलहाल निराशा लगी हाथ. 28 अगस्त.

बड़ा शोर था पेगासस का. मोदी और भाजपा विरोधियों को इस से भारी उम्मीदें थी. उन्हें लगता था कि इसके साबित होते ही मोदी की कुर्सी गई.  सरकार किसी की भी बने पर व


सज्जन राजनीतिक समाज में गुलाम नबी आजाद की अस्वीकार्यता. 26 अगस्त.

गुलाम नबी आजाद एक सुयोग्य कुशल विद्वान और सज्जन राजनेता रहे हैं. वे जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री भी कुछ समय रहे थे. पर उन्हें न जम्मू कश्मीर ने अपना नेता


और अधिक न्यूज़...
जातियों के जंजाल में उलझती भाजपा...( राघवेंद्र सिंह, वरिष्ठ पत्रकार भोपाल). 5 सितंबर.

मध्य प्रदेश भाजपा में गिरावट का जो दौर दस साल पहले महसूस होना शुरू हुआ था अब उसकी कर्कशता बहरों को सुनाई और नेत्रहीनों को भी दिखाई देने लगी है. कभी गुटबा


मेधा पाटकर ने मुझे और मानवतावादियों को बेवकूफ बनाया-स्वामीनाथन अय्यर 5 सितंबर.

आज पत्रकारिता में वह सब कुछ हुआ जो अभूतपूर्व था.जानेमाने स्तंभ लेखक और कभी नर्मदा बचाओ आन्दोलन के समर्थन में लेख  लिखने वाले स्वामीनाथन अय्यर ने एक आल


कैसे बंद होंगे फर्जी विश्वविद्यालय ? 31 अगस्त. (राकेश दुबे, वरिष्ठ पत्रकार भोपाल).

देश की सरकार और राज्य सरकारों को कभी इतिहास के पन्ने भी पलट कर देखना चाहिए, भारत विश्व में ज्ञान का केंद्र रहा है. कई  विदेशी  विद्वानों ने भारत में ज्


यह खतरनाक गठजोड़ कब टूटेगा ?(राकेश दुबे, वरिष्ठ पत्रकार भोपाल). 28 अगस्त.

गजब की  बात है, देश में ईमानदारी को लेकर जो सामूहिक सोच होनी चाहिए थी, वह लगातार कम हो रही है और शायद यही वजह है कि सीबीआई या प्रवर्तन निदेशालय की उचित 


कोहनी से कंचे का खेल खेलते राहुल....!. (प्रकाश भटनागर). 27 अगस्त.

 ’’एक तेरा कदम, एक मेरा कदम, मिल जाएं तो जुड़ जाएगा मेरा वतन’’ कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के इस नारे की सराहना करने में किसी कंजूसी का कोई कारण नहीं है.


और अधिक न्यूज़...
Contact:
Editor
ओमप्रकाश गौड़ (वरिष्ठ पत्रकार)
Mobile: +91 9926453700
Whatsapp: +91 7999619895
Email:gaur.omprakash@gmail.com
प्रकाशन
Latest Videos
जम्मू कश्मीर में भाजपा की वापसी

बातचीत अभी बाकी है कांग्रेस और प्रशांत किशोर की, अभी इंटरवल है, फिल्म अभी बाकी है.

Search
Recent News