24 जनवरी. केन्द्र सरकार आईएएस अधिकारियों की राज्य से केन्द्र में सीमित समय के लिये की जाने वाली पदस्थापना पर नियम ब


21 जनवरी. पंजाब का ताजा ओपिनियन सर्वे बता रहा है कि पंजाब में त्रिशंकु विधानसभा बनने जा रही है. यही नहीं वहां आप, कां


16 जनवरी.कहते हैं अपराधी किसी का सगा नहीं होता. उसका कोई जाति धर्म और राजनीतिक पार्टी नहीं  होती. अपराधी बस अपराधी


योगी आदित्यनाथ गोरखपुर शहर से लड़ेंगे, सही फैसला.15 जनवरी. योगी आदित्यनाथ को गोरखपुर शहर सीट से विधानसभा चुनाव लड़वा


13 जनवरी. देश की एक बड़ी आबादी ऐसी है जिसे रोजाना दोनो वक्त की रोटी नहीं मिल पाती है. उसे कभी एक दिन तो कभी दो दिन की भूख


और अधिक न्यूज़...

24 जनवरी. सरयूसुत मिश्र. भाजपा की केंद्र सरकार आईएएस अफसरों की कमी से जूझ रही हैद्य ऑल इंडिया सर्विस के आईएएस, आईपीए


24 जनवरी. राकेश दुबे देश में अजीब माहौल है. देश के स्वाभिमान और सम्मान पर राजनीति हो रही  है. देश के स्वाभिमान और सम


-श्री शिव प्रकाश जी, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री भारतीय जनता पार्टी 24 जनवरी. देश ने अपना संविधान 26 जनवरी 1950 को स्वी


22 जनवरी.सुरेश शर्मा. यूपी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की भूमिका कितनी है इसको लेकर अभी तक कोई चर्चा नहीं हो रही है.


प्रकाश भटनागर, वरिष्ठ पत्रकार भोपाल. 22 जनवरी. संत कबीरदास लिख गए हैं, ‘‘लाली मेरे लाल की, जित देखूं तित लाल. लाली देख


और अधिक न्यूज़...

लोगों को योजनाओं का लाभ दिलाएं, बेईमानों पर निगरानी रखें बूथ कार्यकर्ता - शिवराजसिंह चौहान.सागर, 23 जनवरी. बूथ समित


भोपाल, 20 जनवरी(विजय गुप्ता)  स्वास्थ्य विभाग और अज़ीम प्रेमजी फॉउंडेशन ने साथ मिलकर बैरसिया के ललरिया सेक्टर के द


छतरपुर, 19 जनवरी(शिवम तिवारी) मुख्यमंत्री के आव्हान पर जिले के निराश्रित एवं जरूरतमंद बच्चों को निजी स्पांसरशिप क


 भोपाल, 18 जनवरी(विजय गुप्ता) मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई मंत्रि-परिषद की बैठक में घर


भोपाल, 20 जनवरी. श्रद्धेय कुशाभाऊ संगठन की मजबूती और विस्तार के लिए जीवन भर जुटे रहे. उनके जन्मशताब्दी वर्ष को भारत


और अधिक न्यूज़...
Contact:
Editor
ओमप्रकाश गौड़ (वरिष्ठ पत्रकार)
Mobile: +91 9926453700
Whatsapp: +91 7999619895
Email:gaur.omprakash@gmail.com
प्रकाशन
Latest Videos
phu ls lhek fookn ij ofj’B i=dkj g’kZo/kZu f=ikBh

किसान नहीं मानेंगे तो क्या करेंगे - हर्षवधन त्रिपाठी की विवेचना

Search